Mast Shayari in Hindi | मस्त शायरी हिंदी मे

Mast Shayari in Hindi: क्या आप भी मस्त मस्त शायरी खोज रहे हैं तो आज में आपके लिए कुछ बहुत ही अच्छी शायरी लेके आया हु। आप इनको पढ़कर अपने मित्रो के साथ साँझा कर सकते है। इस पोस्ट पर आप romantic, love, life, dosti वाली मस्त शायरी पायगे। इनको आप आसानी से कॉपी कर सकते है और अपने फेसबुक, व्हाट्सप्प या इंस्टाग्राम पे डाल सकते है।

मस्त मस्त शायरियां

जब भी शायरी की बात हो तो हम सबको एकदम मस्त वाली शायरी की खोज होती हैं, मेने यहा पर आपके लिए बहुत ही मस्त हिंदी शायरी डाली हैं. हम सब अपनी दुनिया में मस्त रहना चाहते है और अगर आप भी ऐसी शायरी ढूंढ रहे है तो यहाँ पर आप आसानी से पा सकते है।

लफ्ज पुरे ढाई ही थे कभी प्यार बन गये,
कभी ख्वाब तो कभी दर्द।

Mast shayari love

हमको आता है हुनर तेरा इंतज़ार करने का,
जरा तुम भी हुनर लौटकर आने का सीख लो।

Shayari mast mast

एक खूबसूरत सा एहसास हो,
हर घडी हर पल दिल के पास हो।

 

इस जमाने में कुछ हादसे ऐसे भी होते है,
वो मरते तो नहीं है लेकिन वो बेजान होते है।

Mast Shayari Two Line

नींद से जाग कर तुम्हरे बारे सोचता हु,
सपना तुम्हारा मैं जब देख लेता हूँ।

Mast Khwab Shayari Photo

जहन में उतरता है जब ख्याल तेरा,
रोम रोम महकने लगता है मेरा।

 

देख कर हैरान हूँ शीशे का जिगर,
एक तो कातिल तेरी नज़र,
और आँखों पे तेरे काजल का कहर।

 

मैंने अपना मिजाज कुछ ऐसा बनाया,
दिल में आग लगी और केसर से मुस्कुराया।

 

Mast Shayari Hindi

 

प्यार न करने के दो ही तरीके थे,
या दिल न होता या तुम न होते।

 

mast mast shayari

 

तुम्हारा होना रविवार की तरह है,
समझ नहीं आता, बस अच्छा लगता है।

 

नींद भी नीलाम हो जाती है बाज़ार-ए-इश्क में,
किसी को भूल कर सो जाना, आसान नहीं होता।

 

क्या इस दुनिया में कोई वकील है,
मुझे वह खोया हुआ प्यार दुबारा जीता दे।

 

ये भी तमाशा है, प्यार और मोहब्बत में दोस्त,
दिल किसी का होता है तो बस किसी और की चलती है।

 

love Mast Shayari

 

इश्क उन्होंने सुलगाया है, एक गीली लकड़ी की तरह,
ना पूरा जल पाया, ना ही कभी बुझ पाया है।

 

मोहब्बत के बाजार में तो रूह भी नीलाम हो जाती है,
इतना आसान नहीं होता किसी को अपना बनाना।

 

चलते तो हैं वो साथ मेरे पर अंदाज देखिए,
जैसे की इश्क करके वो एहसान कर रहें है।

 

रात होगी तो चाँद दुहाई देगा,
ख्वाबों में आपको वह चेहरा दिखाई देगा,
ये मोहब्बत है ज़रा सोच कर करना,
एक आंसू भी गिरा तो सुनाई देगा।

 

ऐ आशिक तू सोच तेरा क्या होगा,
क्योंकि हशर की परवाह मैं नहीं करता,
फनाह होना तो रिवायत है तेरी,
इश्क़ नाम है मेरा मैं नहीं मरता।

 

तेरे ख़त में इश्क़ की गवाही आज भी है,
हर्फ़ धुंधले हो गए हैं मगर स्याही आज भी है।

 

जो रहते हैं दिल में वो जुदा नहीं होते,
कुछ एहसास लफ़्ज़ों से बयां नहीं होते,
एक हसरत है कि उनको मनाये कभी,
एक वो हैं कि कभी खफा नहीं होते।

 

तू ही मिल जाये मुझे ये ही काफ़ी है,
मेरी हर साँस ने बस यही दुआ माँगी है,
जाने क्यों दिल खींचा जाता है तेरी तरफ़,
क्या तुमने भी मुझे पाने की कोई दुआ माँगी है।

Mast Shayari 2 Line

हम अपनी भावनाओं को लोगों से अलग रखते है,
इसलिए हम उन्हें गलत लगते है।

 

वो कह गयी ढूंढ लेना मेरे जैसा कोई और,
भला में वैसा क्यू ढूँढूँगा जो मुझे छोड़ दे।

 

रिश्वत भी नहीं लेता कमबख्त जान छोड़ने की,
स्वीटहार्ट ये तेरा प्यार मुझे बहुत अच्छा लगता है।

 

सर्दी के मौसम में तेरी यादों की धुंध ने बड़ा बेहाल कर रखा है,
इश्क के मौसमों ने मुझे परेशान कर रखा है।

 

चलते थे इस संसार में कभी सीना तान के हम,
तुझसे प्यार क्या हुआ, घुटनो पे आ गए हम।

 

वो बस पूछ लेते मेरा हाल ,
कितना आसन था मेरा इलाज।

 

इज़हार-ए-इश्क करो उससे, जो हक़दार हो इसका,
बड़ी नायाब शय है ये इसे ज़ाया नहीं करते।

 

घुटन सी होने लगी है, इश्क़ जताते हुए,
मैं खुद से रूठ जाता हूँ, तुम्हे मनाते हुए।

 

जरा देखो तो ये दरवाजे पर दस्तक किसने दी है,
अगर ‘इश्क’ हो तो कहना, अब दिल यहाँ नही रहता।

बिंदास शायरी

ज़िंदगी जीने के लिए मुझे दुआ चाहिए,
उस पर किस्मत की भी वफ़ा चाहिए,
खुदा के रहम से सब कुछ है मेरे पास,
बस प्यार करने के लिए आप जैसा कोई महबूब चाहिए।

 

चुराकर दिल मेरा वो बेखबर से बैठे हैं,
मिलाते नहीं नज़र हमसे अब शर्मा कर बैठे हैं,
देख कर हमको छुपा लेते हैं मुँह आँचल में अपना,
अब घबरा रहे हैं कि वो क्या कर बैठे हैं।

 

Sweet Mast Shayari Photo

 

जब ईश्वर ने प्रेम बनाया होगा,
तो पहले खुद आज़माया होगा,
हमारी हैसियत ही क्या है,
इस प्यार ने खुदा को भी रुलाया होगा।

 

मुहब्बत की शायरी पढ़ लिया करो,
एक खुराक सुबह, एक खुराक शाम ले लिया करो,
ये वही दवा है जिससे,
इश्क में पड़े आशिक़ को मिलता है तुरंत आराम।

 

प्यार वो है जो एक तरफा हो,
इज़हार-ऐ-इश्क़ तो ख्वाहिश बन जाती है,
मोहब्बत है तो आँखों में पढ़ लेना,
ज़ुबान से इज़हार तो नुमाइश बन जाती है।

 

वह मुझ तक पहुंचने का रास्ता चाहता है,
लेकिन मेरे प्यार का गवाह चाहता है,
खुद आने और जाने वाले मौसमों की तरह है,
और मेरे प्यार का अंत चाहता है।

 

प्यार सबको दीवाना बना देता है,
सैर जन्नत की करा देता है प्यार,
मरीज हो अगर दिल के तो कर लो इश्क़,
क्योंकि धड़कना दिलों को सिखा देता है इश्क़।

 

तपिश से बच के घटाओं में बैठ जाते हैं,
गए हुए कि सदाओं में बैठ जाते हैं,
हम आसपास के मौसम से घबरायें,
तेरे विचारों की छाओं में बैठ जाते हैं।

 

संगमरमर के महल में तेरी ही तस्वीर सजाऊंगा,
मेरे इस दिल में ऐ प्यार तेरे ही ख्वाब सजाऊंगा,
यूँ एक बार आजमा के देख तेरे दिल में बस जाऊंगा,
मैं तो प्यार का हूँ प्यासा जो तेरे गोद में मर जाऊॅंगा।

 

मुमकिन है कि मुक्कमल ना हो पाये,
तो क्या प्यार ही ना किया जाये।

 

मालूम तो मुझे भी था ईश्क बर्बाद करता है,
मगर वो ज़िंदगी भी क्या जो ईश्क़ में जाली न हो।

Shayari Mast Mast

शायरियों से वार करना हमें भी आता है जनाब,
बस डरते हैं कहीं निशाना दिल पर ना लग जाए।

 

माना कि बहुत महँगा है ख्वाब आपका,
पर कीमत हमारे प्यार की कुछ कम तो नहीं।

 

सहारा सबको चाहिये होता है,
यहाँ सबका कंधा अपने साथी को ढूँढता हैं।

आपको मेरी कैसे लगी Mast Shayari in Hindi, आप इसको अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर कीजिये

Leave a Comment